वो…

“धोखेबाज़ो के सरदार” निकले वो….

जिन्हें अब तक हम “मोहब्बत का बादशाह” समझ रहे थे.

-@nu🙁

….Those who turned out to be traitors, who till now we considered the king of love…..

-@nu😐

निशब्द शब्द

मेरी आँखों के खुलने से बन्द होने तक…
मैं तुम्हें प्यार करूंगी सदा।।
मेरी बातों के शुरु होने से खत्म होने तक…
मैं तुम्हें प्यार करूंगी सदा।।
मेरे होंठो की हँसी से आँखों की नमी तक…
मैं तुम्हें प्यार करूंगी सदा।।
मेरी सांसों के चलने से रुक जाने तक…
मैं तुम्हें प्यार करूंगी सदा।।
मेरी खिलखिलाहट से खामोशी तक…
मैं तुम्हें प्यार करूंगी सदा ।।
मेरे गुलाबीपन से पीला पड़ जाने तक…
मैं तुम्हें प्यार करूंगी सदा।।
किनारों पर पहुंच कर क्षितिज तक…
मैं तुम्हें प्यार करूंगी सदा ।।

Anushree srivastava

Create your website with WordPress.com
Get started